www.hamarivani.com

शनिवार, 2 सितंबर 2023

सुनो


 

जब 

मधुश्रुत की पागल बयार छाएगी 

सूनी रजनी दुल्हिन सी शर्माएगी 

तब 

सुबह सेज के सुमनों को छू लेना 

इनमें तुमको मेरी सुगंध आएगी 

(अज्ञात ) 

1 टिप्पणी:

प्रशांत शर्मा ने कहा…

यह कही सुना हुआ लगता है